Advertisement
Advertisement

RCB के सामने एक मैच भी नहीं जीत पाएं हैं ये 6 कप्तान

आईपीएल में ऐसे कई कप्तान रहे हैं जो विराट कोहली की अगुवाई वाली आरसीबी के खिलाफ कभी कोई मैच नहीं जीते, जिनमें से एक ब्रेंडन मैक्कुलम हैं।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर 2008 से ही आईपीएल में शामिल है और तब से वह लगातार इस प्रतियोगिता का हिस्सा बनी रही है। आईपीएल के सबसे पहले मुकाबले में यह टीम शामिल थी, जहां उसे एक बड़ी हार का सामना करना पड़ा था। टीम का उस सीजन काफी खराब प्रदर्शन रहा था और सेमीफइनल में भी जगह बनाने में असफल रही थी।

हालांकि पिछले 13 वर्षों में इस फ्रेंचाइजी ने तीन बार फाइनल के लिए क्वालीफाई किया है मगर उन्हें खिताब की दरकार अभी तक है। आरसीबी की टीम में विराट समेत कई दिग्गज खिलाड़ी खेले हैं लेकिन टीम को अभी भी अपनी पहली ट्रॉफी की तलाश है।

वेबसाइट पर अधिक विवरण https://betraja.in/cricket-betting-sites

बात अगर आरसीबी के खिलाफ सबसे ज्यादा मैच जीतने वाले कप्तानों की हो तो उसमें एमएस धोनी और रोहित शर्मा जैसे दिग्गज आईपीएल कप्तानों का नाम सबसे पहले आता है। हालांकि इस लीग में कुछ ऐसे भी कप्तान हुए, जिन्हें आरसीबी के खिलाफ एक भी मैच में जीत हासिल नहीं हुई।

इस आर्टिकल में हम उन 6 कप्तानों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्होंने आरसीबी के खिलाफ कम से कम दो मैचों में कप्तानी करते हुए कभी जीत हासिल नहीं की।

1. रविचंद्रन अश्विन (4 मैच, 4 हार)

रविचंद्रन अश्विन ने अपने आईपीएल करियर की शुरुआत चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हुए की थी। इसके बाद उन्होंने दो साल राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की ओर से भी खेला। 2018 में हुई आईपीएल नीलामी के दौरान उन्हें पंजाब किंग्स ने अपनी टीम में शामिल किया और उन्हें फ्रेंचाइजी का कप्तान भी नियुक्त किया। अश्विन की दो साल की कप्तानी में पंजाब किंग्स का सामना रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से चार बार हुआ, जहां हर बार उन्हें मुंह की खानी पड़ी।

2. महेला जयवर्धने (4 मैच, 4 हार)

श्रीलंका के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी महेला जयवर्धने ने अपने आईपीएल करियर के दौरान आरसीबी के खिलाफ कोच्चि टस्कर्स केरल और दिल्ली की फ्रेंचाइजी की तरफ से कप्तानी की है।

आईपीएल 2011 में कोच्चि की टीम को आरसीबी के खिलाफ दोनों मुकाबलों में बड़ी हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद जयवर्धने 2012 में दिल्ली की टीम के साथ जुड़े और फिर अगले साल टीम के कप्तान बने। 2013 में जयवर्धने को बतौर कप्तान आरसीबी के खिलाफ दोनों मुकाबले गंवाने पड़े। इस प्रकार महेला जयवर्धने का रिकॉर्ड आरसीबी के खिलाफ चार मुकाबलों में चार हार का है।

3. ब्रेंडन मैकुलम (3 मैच, 3 हार)

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रेंडन मैकुलम ने अपने आईपीएल करियर में कोलकाता नाइट राइडर्स और गुजरात लायंस की कप्तानी की है। मैकुलम आईपीएल 2009 में केकेआर के कप्तान थे। बैंगलोर ने उस सीजन के दोनों लीग मैचों में कोलकाता को हराया था। मैकुलम ने दूसरे मैच में 84 रनों की पारी खेली थी, लेकिन आरसीबी ने अंततः केकेआर को छह विकेट से हरा दिया था।

सात साल बाद मैकुलम ने गुजरात लायंस की तरफ से आरसीबी के खिलाफ कप्तानी की। उस मुकाबले में विराट कोहली और एबी डिविलियर्स ने जबरदस्त बल्लेबाजी की थी और मैकुलम की टीम को 144 रन से हार मिली थी।

4. आरोन फिंच (2 मैच, 2 हार)

ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा सीमित ओवरों के कप्तान आरोन फिंच को भी आईपीएल में आरसीबी के खिलाफ कप्तानी करते हुए सफलता हासिल नहीं हुई है। इस खिलाड़ी ने आरसीबी के खिलाफ 2013 में पुणे वॉरियर्स की तरफ से खेलते हुए दो मुकाबलों में कप्तानी की थी। पहले मुकाबले में क्रिस गेल की 175* रन की तूफानी पारी की बदौलत आरसीबी ने 130 रन से जीत हासिल की थी।उस सीजन के आरसीबी के खिलाफ दूसरे मुकाबले में फिंच की टीम को उन्हीं के घर में 17 रन से हार मिली थी।

5. इयोन मॉर्गन (2 मैच, 2 हार)

कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम ने आईपीएल 2020 के बीच सीजन में दिनेश कार्तिक को कप्तानी के पद से हटाकर इंग्लैंड के विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मॉर्गन को कमान सौंपी थी । हालांकि उनका यह फैसला कुछ खास फ़र्क़ नहीं लाया। आईपीएल 2020 में मॉर्गन को बतौर कप्तान आरसीबी के खिलाफ मुकाबले में 8 विकेट से करारी हार मिली थी। वहीं आईपीएल 2021 में एक बार फिर आरसीबी ने केकेआर को हराने में कामयाबी हासिल की और मुकाबले को 38 रन से जीता।

6. मुरली विजय (2 मैच, 2 हार)

मुरली विजय ने साल 2016 में पंजाब की कमान संभाली थी। उस सीजन आरसीबी के खिलाफ पहले मैच में उन्हें अपने घरेलू मैदान पर 1 रन की करीबी हार झेलनी पड़ी थी। उस सीजन में दूसरी बार आरसीबी के खिलाफ मुकाबले में विजय ने टॉस जीतकर आरसीबी को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया और उनका यह निर्णय बहुत ही गलत साबित हुआ। उस मुकाबले में कोहली और गेल की धुआंधार बल्लेबाजी की बदौलत आरसीबी ने 15 ओवर में 211/3 का स्कोर बनाया। इसके जवाब में पंजाब की टीम मात्र 120 रन ही बना पाई और मुकाबला हार गयी।

Advertisement

Related Stories

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here