Few Lines on My Father in Hindi – पिता पर निबंध

शीर्षक : Few Lines on My Father in Hindi (पिता के ऊपर सुविचार).

कुबेर के खजाने की बात तो दुनिया ने बहुत सुनी होगी लेकिन कभी सुना है की कुबेर के खजाने से भी ज्यादा कीमती होता है कुछ| जी हाँ कुबेर के खजाने से भी कई गुना कीमती होते हैं हमारे माता पिता जिनका कोई मूल्य ही नहीं है.

माता- पिता अनमोल है जिसकी कोई कीमत ही नहीं है.

पिता जी एक ऐसा शब्द है जिसे दुनिया अलग अलग नाम से बुलाती है जैसे पिता जी, बापुजी, बाबूजी, अब्बा, डैड, आदि नामों से बुलाती है| लेकिन सभी लोग अपने पिता जी से अत्यंत प्यार करते हैं.

जीवन में पिता जी का बहुत बड़ा योगदान होता है| पिता जी का महत्व तो केवल वही बता सकता है जीसके पास अपने पिता जी नहीं हो या फिर उसने अपने पिता जी को खो दिया है| पिता जी का जीवन में बहुत बड़ा योगदान होता है.

Must Read: RozDhan App क्या है इससे पैसे कैसे कमाए?

Few Lines on My Father in Hindi

पिता जी ही पहले ऐसे इंसान होते है जो चाहते हैं कि उनका बेटा या बेटी उनसे ज्यादा कामयाब हो|

पिता जी की आँखों में हमेसा गुस्सा ही देखा होगा आपने लेकिन कभी पिता जी के दिल में बसे प्यार को परखने की कोशिश करना| यकीन न हो तो 2 मिनट पिता जी के पास जाना और जब वो बैठे हो तब चुपचाप जाकर उनके पैरों के पास बैठ जाना |

यकीन मानिए दूसरे ही सेकंड आपके पिताजी कितना ही खराब मूड में ही क्यों हो उस समय वो आपसे जरूर पूछेंगे क्या हो गया तुम्हें, क्यों परेशान हो, कोई चिंता या समस्या है कोई…..

पिता जी कुछ भी हो जाए कभी अपने बच्चों को दुखी नहीं देख सकते है|

दोस्तों दुनिया में आपसे कोई भी कितना दुखी क्यों न हो लेकिन अपने माता पिता को अपनी वजह से दुखी मत होने देना|

माता पिता का जो प्यार होता है वो कही भी नहीं मिलेगा| दुनिया में कितना ही बड़ा अमीर आदमी क्यों न हो लेकिन बिना माता-पिता के वो व्यक्ति गरीब होता है.

पिता जी में गुस्सा तो होता है लेकिन वो कभी भी अपने बेटे या बेटी को दुखी नहीं देख सकते है|

पिता जी न जाने कैसे अपनी कम आय में भी अपने बच्चों की खुशियाँ पूरी कर देते हैं| खुद साइकल पर चलते हैं ओर अपने बच्चों को मोटर साइकल देते हैं जिससे उनके बच्चे को खुशी मिले.

पिता जी हमेशा अपने बच्चों की खुशी में अपनी खुशी देखते है और हम है की हमेशा अपने माता पिता से शिकायत करते हैं की आपने मेरे लिए ये नहीं किया वो नहीं किया|

दोस्तों अगर हो सके तो कभी अपने पिता जी के लिए कभी अपनी मेहनत से कमाए रुपए से कुछ खरीद कर घर लेकर जाना यकीन मानिए आपके पिता जी की खुशी का ठिकाना नहीं रहेगा|

पिता जी की आंखों में खुशी के आँसू मिलेंगे| पिता जी का होना जीवन में बहुत जरूरी होता है.

मैं तो हैरान हूँ उन लोगों पर जो मंदिरों में मस्जिदों में भगवान को खोजते हैं कभी घर में जा कर अपने माता पिता को नहीं देखते मेरे लिए तो मेरे माँ पापा ही काफी है| भगवान को कभी देखा नहीं और भगवान की लालसा मन में रहती है पापा मम्मी से बढ़ कर कोई नहीं होता है.

भगवान के चरणों में जाकर हजार बार भी सिर पटक लो शायद वो तुम्हारी सुन ले लेकिन माता पिता जी के पास जा कर कुछ भी मांगो वो मिलेगा|

अगर आपके माता पिता इतने सक्षम नहीं हुए तो भी कुछ नही तो तुम्हें दिलासा और धैर्य दे देते है| उनकी बातों में हमे शक्ति मिलती है|

पिताजी के बिना जीवन एक सूखे पत्ते की तरह है जो कभी यहाँ कभी वहाँ दर दर की ठोकरे खाता है| और कभी भी किसी कीमत में नहीं आता|

पिताजी का होना बहुत जरूरी होता है जीवन में इसलिए अपने पिता के सपनों को पूरा करना हमारा फर्ज है| हमें बस खुद से यही वादा करना है कि कभी हमारी वजह से अपने पिता जी की आँखों से एक आँसू न आ जाए.

कुछ ऐसा करके दिखाना है कि जिससे हमारे माता पिता को खुशी मिलनी चाहिए| माँ पापा के लिए आपकी कामयाबी ही सब कुछ है|

कामयाब होना जरूरी है वरना इस जीवन में लोग बार बार आपसे पूछेंगे जरूर की क्या कर रहे हो| इसलिए कोई भी हो कैसी भी हो कामयाबी हासिल करें और अपने माता पिता के सपनों को सकार करें.

बिना पिता के ये संसार सुना है| सोचो अगर पिता जी नहीं होते तो कोन हमें खिलौने लाकर देता| पिताजी नहीं होते तो कोन हमें प्यार करता| पिता जी नहीं होते तो कोन हमारी सारी खुशियाँ पूरी करता.

पिताजी ही एक ऐसे व्यक्ति होते है जो अपने बच्चों की खुशी के लिए दर दर जाकर पैसे उधार लेकर अपने बच्चों को पढ़ाते हैं|

पता नहीं ईश्वर का रूप होते है पिता जी या फिर पिता जी ही भगवान है| मैं आज भी में हूँ|

पिताजी पर कुछ शब्द बोलने से पहले में आपको बता दूँ कि जीवन में लाख करोड़ अरब पैसे कमा लेना लेकिन अगर आपके माता पिता को कोई सुख नहीं मिलेगा न तो आपको नरक में भी जगह नहीं मिलेगी| इसलिए आगे बढ़िए लेकिन माता पिता को पीछे मत छोड़ देना.

हमारे इस लेख को पढ़कर अच्छा लगा हो तो कमेंट के माध्यम से जरूर बताना.

माता पिता पर इतना ही लिख रहा हूँ लेकिन कभी जरूरत पड़ी तो और भी लिख दूंगा क्यूंकि माता पिता की बात है| इतना नहीं किया तो कुछ भी नहीं किया.

अब अगर आपको पिताजी पर कुछ वाक्य अच्छे लगे हो तो बिना देरी किए आप इसे आगे भेज सकते है.

इस लेख को आप सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते है| आखिरी बार बोलूँगा कृपया करके सुन लीजिए| माता पिता से प्यार करिए ये आपकी ताकत है अपना समय किसी ऐसे के लिए बर्बाद मत कर देना जिसे आपकी भी कदर न हो|

माता पिता से बढ़ कर कुछ नहीं| कुछ भी नहीं…..

लेखक – शानू गुप्ता (दिल्ली)
“धन्यवाद”

Searches related to Few Lines on My Father in Hindi ⇓

पिता पर निबंध
Few Lines on My Father in Hindi - पिता पर निबंध

कुबेर के खजाने की बात तो दुनिया ने बहुत सुनी होगी लेकिन कभी सुना है की कुबेर के खजाने से भी ज्यादा कीमती होता है कुछ| जी हाँ कुबेर के खजाने से भी कई गुना कीमती होते हैं हमारे माता पिता जिनका कोई मूल्य ही नहीं है|

Editor's Rating:
5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

3 thoughts on “Few Lines on My Father in Hindi – पिता पर निबंध”

  1. इस लेख के लिए बहुत बहुत धन्यवाद शानू जी ।
    आपका लेख पढ़कर मानो मुरझाए हुए पौधे को जल मिल गया हो।

    हम अपने माता पिता का बहुत सम्मान करते हैं। कई बार हमसे भूल हो जाती है, शायद हम उनसे दूर से जाने लगते हैं। भूल होने पर माफी मांग ली जाए तो उनका हम पर विश्वास बना रहता है। याद रखना चाहिए कि जब हमारे करीबी मित्र तक साथ छोड़ देते हैं,उस वक्त भी हमारे अभिभावक हमारे साथ ही होते हैं। माता पिता हमेशा हमारी खुशी चाहते हैं। दुनिया में ऐसा कोई नहीं जो माता पिता को प्रतिस्थापित कर सके।

    Reply
    • मुझे सच में बेहद ही खुशी हुई महिमा जी की आपको मेरा ये लेख बहुत पसंद आया और सच मानिए आपके एक कमेंट ने मुझे बहुत सारी ताकत दे दी|
      धन्यवाद महिमा जी

      Reply

Leave a Comment